शुक्रवार, 20 नवंबर 2009

एक प्याली चाय

चाय,

एक प्याली चाय

सिर्फ चाय नहीं

यह देती है जीवन

उस मरे हुए आदमी को

जो बच निकलता है

सुबह की खूबसूरत मौत से ।

और फिर तैयार होता है

एक आनेवाली मौत के लिये ।

अगर आप कहेंगे कि

चाय पीना, एक नशा है

तो मंजूर है हमें यह नशा ।

एक प्याली चाय

आप खरीद सकते है

दो या तीन रुपये में ।

मिल जायेगी

एक चाय की दूकान

आपको किसी भी बाजार में

बस स्टाप पर

या किसी चौक पर ।

या फिर

अगर आप जानते है

चाय बनाना

तो यह आपकी महानता है ।

यहाँ ज्यादातर लोगो को

नसीब हो जाती है चाय ।

कुछ लोग सुबह के नास्ते में

निगल जाते है

रात की बची हुई सूखी रोटियां

चाय के साथ ।

कुछ लोगों को

‘दानेदार’ या ‘लीफ़-टी’ पसंद है ।

कुछ ‘डस्ट’ से ही चला लेते है

अपना काम ।

कुछ लोग पीते है चाय

स्वाद के लिये

और कुछ  

महज टालने के लिये थोड़ी देर तक भूख ।

आजकल चाय भी बहुत

महंगी हो गयी है ।

14 टिप्‍पणियां:

  1. चाय सब पीते हैं - जरूरत है ।
    संवेदना सही है आपकी । आभार ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. मजा आ गया पढ़कर,
    चाय की कहानी...
    चन्दन जी के जुबानी...
    बेहतरीन आलोचना महंगाई पे ....धन्यवाद...

    उत्तर देंहटाएं
  3. चंदन भई चाय भी शर्मा के कप मे दुबक गयी होगी...
    ..आपकी कसीदेकारी देख कर..
    अब तो मुझे भी महान बनने की तलब लग आयी..चलता हूँ..बना ही लेता हूँ एक कप..दानेदार!!!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत बहुत ही भावनात्मक रचना तैयार की है चन्दन जी आपने एक चाय की एक कप प्याली पर.
    बहुत ही बढ़िया ......
    बधाई आपको....

    उत्तर देंहटाएं
  5. Sat Shri Akal!!!

    Whenever its a matter of tea I can't keep myself silently.
    The lines which you have written about tea and describing its properties rather its good qualities are absolutely correct.

    Whether it is Leaf tea or Dust tea it doesn't matter, the purpose behind having tea is enter into an new era of life(what actually I meant for tea).

    And about its cost, no one is gonna to compromise over it. If we do consider other refreshing drinks or stuffs it is quiet cheap.

    Now I would like to draw your attention another important benefits of tea. Have you ever think how many peoples associated with tea production? In fact it is one of the major source of income and employment for the peoples staying in developing countries like India, Sri Lanka, Bangladesh etc. Peoples from hilly or mountainous region involved themselves in the production of tea and a major part of it used for exports.

    Whenever it is concerns of me anyone can say it is amazingly yes a life line for me.

    P.S. : As you know well how much I am passionate about tea(though m not divulging any of my likes or dislikes overhere).

    Anyways , ultimate covering.
    Keep it up.
    Cheers!!
    Have a wonderful day ahead.

    उत्तर देंहटाएं
  6. bahut hi oomda rachna ......

    waise main bhi chai bahut peeta hoon.......

    bahut bahut bahut.....

    achchi lagi yeh kavita....

    उत्तर देंहटाएं
  7. चाय की चर्चा कमाल की है ....... अच्छी रचना है ..........

    उत्तर देंहटाएं
  8. हम्म चाय की प्याली पिलाने के लियी सांड आभार व्यक्त करता है !!!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. तू मेरी चाय गरमा गर्म
    मैं तेरा कप ताप हरण
    धीमे धीमे पी जाती है तू
    चुस्कियों में
    मुझे करते हुए रिक्त
    और मैं रख दिया जाता हूँ
    वाश बेसन में
    धुलने के लिए

    उत्तर देंहटाएं
  10. मेरे लिये चाय तो बहुधा समय का एक क्वाण्टम बिताने का माध्यम है। पीना और बनाना दोनो!

    उत्तर देंहटाएं
  11. ADHRON PAR TERA EASTINDIA COMPNY SE KAM NAHIN TU , KADI MITHI UBLI HUI BAS HAI CHAI PAR MERE HAM DUM SE KAM NAHIN, KAHTE HAIN LOG ANGREJ CHALE GAYE ANGREJI CHOR GAYE PAR MAIN KAHATA HUN EK BURI AADAT JISKE SABHI HINDUSTANI HAIN FIDA, HO AALISHAN GHAR YA KUTIYA HAR ANGITHI PAR SABERE TERA RAAJ HAI, MIYAN HO YA BIBI HAR KE ADHARON SE TERA HI SWAD HAI.

    उत्तर देंहटाएं
  12. Bahut thand lag rahi hai chandan. chay ki pyali dekhkar pine ka man kar raha hai.

    उत्तर देंहटाएं
  13. mene blogvani par id banane ki koshish ki par blogvani kholte hi computer hang ho ja raha hai. samajh nahin aa raha hai kyon?
    shayad kuch samsya hai.

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails