शनिवार, 25 अप्रैल 2015

गजेन्द्र


गजेन्द्र गए तुम ऊपर
वाल पर चढ़ गया एक और स्टेटस

- इंक़लाब ज़िंदाबाद । 

************

गजेन्द्र बढ़ो आगे अब तुम
ठेल - ठाल चढ़ जाओ सूली

 - जय जवान जय किसान ।

************

प्राण दिए व्यर्थ ही
गजेन्द्र गए बिना अर्थ ही

- दिल्ली चलो दिल्ली चलो  ।

************

महान मेरा तंत्र यह
गजेन्द्र सुनो मंत्र यह

- तुम मुझे रक्त दो मैं तुम्हें लोकतंत्र  दूँगा ।


************




 

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails